ಬುಧವಾರ, ಫೆಬ್ರವರಿ 8, 2023
ಇಂದಿನಿಂದ ಕರ್ನಾಟಕ vs ಸೌರಾಷ್ಟ್ರ ಸೆಮೀಸ್ ಫೈಟ್-ಯುವತಿಗೆ ಮೆಸೇಜ್ ಮಾಡಿದಕ್ಕೆ ಸಹೋದರನಿಂದ ಯುವಕನ ಮೇಲೆ ಹಲ್ಲೆ-ಮದುವೆಗೂ ಮುಂಚೆ ಕಂಡೀಷನ್ಸ್ ಅಪ್ಲೈ- ಬೆಂಗಳೂರಿನ ವಧು, ವರರ ನಯಾ ಟ್ರೆಂಡ್-ಟರ್ಕಿ ಸಿರಿಯಾ ಭೂಕಂಪ: ಸಾವಿನ ಸಂಖ್ಯೆ 8 ಸಾವಿರ; ಗಾಯಾಳುಗಳ ಸಂಖ್ಯೆ 35 ಸಾವಿರ, ರಕ್ಷಣಾ ಕಾರ್ಯಕ್ಕೆ ಅಡಚಣೆ-ಮನೆ ಮುಂದೆ ಮಲಗಿದವರ ಮೇಲೆ ಹುಚ್ಚು ನಾಯಿ ದಾಳಿ – 25ಕ್ಕೂ ಅಧಿಕ ಜನ ಆಸ್ಪತ್ರೆ ದಾಖಲು-ಕಾರ್ಕಳ : ಮಹಿಳೆ ನೇಣು ಬಿಗಿದು ಆತ್ಮಹತ್ಯೆ-ಕಟ್ಟಡದ ಅವಶೇಷಗಳಡಿಯೇ ಮಗುವಿಗೆ ಜನ್ಮ ನೀಡಿ ಮಹಿಳೆ ಸಾವು-ಬೈಕ್‌ನಲ್ಲಿ ರಾಂಚಿ ಸ್ಟೇಡಿಯಂನಿಂದ ಬಿಂದಾಸ್‌ ಆಗಿ ಹೊರಟ ಎಂ ಎಸ್ ಧೋನಿ..! ವಿಡಿಯೋ ವೈರಲ್-ಹೊಸ ಮುಖದ ಬಗ್ಗೆ ರಾಹುಲ್ ಗಾಂಧಿ ಒಲವು. ಕೊಡಗಿನಲ್ಲಿ ಪೊನ್ನನ್ನ,ಡಾ. ಮಂತರ್ ಗೌಡ, ಬೆಳ್ತಂಗಡಿಯಲ್ಲಿ ರಕ್ಷಿತ್ ಶಿವರಾಂ ಬಹುತೇಕ ಫಿಕ್ಸ್.-ಡಿಕ್ಕಿಹೊಡೆದ ಗಡಿಬಿಡಿಗೆ ಬ್ರೇಕ್ ಬದಲು ಎಕ್ಸಲೇಟರ್ ತುಳಿದ ಮಹಿಳೆ; ಬೈಕ್ ಸವಾರ ಸ್ಥಳದಲ್ಲಿಯೇ ಸಾವು
Previous
Next

'मुझे काली बिल्ली कहते थे', Priyanka Chopra ने खोली बॉलीवुड की पोल, सालों बाद छलका दर्द, बोलीं- लगता था मैं सुंदर नहीं

Twitter
Facebook
LinkedIn
WhatsApp
‘मुझे काली बिल्ली कहते थे’, Priyanka Chopra ने खोली बॉलीवुड की पोल, सालों बाद छलका दर्द, बोलीं- लगता था मैं सुंदर नहीं

प्रियंका चोपड़ा आज ग्लोबल आइकॉन बन गई हैं. लाखों दिलों की धड़कन और करोड़ों की इंस्पिरेशन प्रियंका ने कड़ी मेहनत से बड़ा मुकाम हासिल किया है. लेकिन एक समय था जब बॉलीवुड इंडस्ट्री में उनके साथ बुरा व्यवहार हुआ करता था. एक्ट्रेस ने अपना एक्टिंग डेब्यू तमिल फिल्म Thamizhan (2002) से किया था. इसके बाद उन्हें बॉलीवुड की फिल्मोंं में देखा गया. अब अपने नए इंटरव्यू में प्रियंका चोपड़ा ने बताया है कि कैसे शुरुआती दिनों में उन्हें अपनी स्किन के कलर की वजह से भेदभाव झेलना पड़ा था.


हाल ही में बीबीसी की ‘100 वीमन’ लिस्ट में प्रियंका चोपड़ा ने अपना नाम दर्ज करवाया. वो साल 2022 की सबसे प्रभावशाली महिलाओं में से एक बनी हैं. ऐसे में बीबीसी से प्रियंका चोपड़ा ने बॉलीवुड और उसमें होने वाले रंगभेद को लेकर बात की. उन्होंने बताया, ‘मुझे काली बिल्ली और सांवली कहा जाता था. मेरा मतलब है ‘सांवली’ का क्या होता है? वो भी उस देश में जिसमें सभी ब्राउन हैं. मुझे लगता था कि मैं सुंदर नहीं हूं. मैं सोचती थी कि मुझे दूसरों से ज्यादा कड़ी मेहनत करनी होगी, जबकि मुझे विश्वास था कि मैं अपने से हल्के स्किन कलर वाले एक्टर्स से ज्यादा टैलेंटेड थी. लेकिन उस समय मुझे लगता था कि ये सब ठीक है, क्योंकि यही नॉर्मल माना जाता था.’

हमारा समर्थन करने के लिए यहां क्लिक करें

इससे जुड़ी अन्य खबरें

राष्ट्रीय

अंतरराष्ट्रीय

1645513036

रूस के हमले के बाद यूक्रेनी सेना में दोगुनी हुई महिला सैनिकों की संख्या, हालात बिगड़े तो उठा लिए हथियार

रूस के हमले के बाद यूक्रेनी सेना में दोगुनी हुई महिला सैनिकों की संख्या, हालात बिगड़े तो उठा लिए हथियार